बांसवाड़ा से 43 हज पर जायेंगे, प्रदेश से 4535 हज पर जायेंगे

Updated on January 17, 2019 Religion
बांसवाड़ा से 43 हज पर जायेंगे, प्रदेश से 4535 हज पर जायेंगे, Banswara "Forty three go to Hajj from Banswara"

हज-2019 : अब यात्री 81 हजार की पहली किस्त हज कमेटी ऑफ इंडिया के अकाउंट में जमा कराएंगे 

बांसवाड़ा | इस साल हज का फर्ज अदा करने मक्का-मदीना जाने के लिए प्रदेश के 4535 यात्रियों की लॉटरी (कुर्रा) मंगलवार को निकाल दी गई है। हज-2019 के लिए संभाग के 292 यात्रियों में उदयपुर के 90, राजसमंद के 30, प्रतापगढ़ के 22, चित्तौड़गढ़ के 83, डूंगरपुर के 24 और बांसवाड़ा के 43 यात्रियों की लॉटरी निकली है। बिना मेहरम मक्का-मदीना जाने वाली उदयपुर की दो सहित 26 महिलाओं का चयन किया है। राजस्थान हज कमेटी के संयोजक जहीरुद्दीन सक्का ने बताया कि चयनित यात्रियों को पहली किस्त के रूप में 81 हजार रुपए हज कमेटी ऑफ इंडिया के बैंक अकाउंट में जमा कराने हैं। सफर का सिलसिला अगस्त के पहले सप्ताह में शुरू हो जाएगा। पहली फ्लाइट जयपुर के सांगानेर एयरपोर्ट से जेद्दा (सऊदी अरब) के लिए उड़ान भरेगी। बता दें कि इस साल प्रदेश से 10 हजार 750 लोगों ने हज के लिए आवेदन किए किए थे। 
 

फर्ज है हज, जानिए इसकी अहमियत 
अंजुमन तालीमुल इस्लाम के मौलाना जुलकरनैन बताते हैं कि इस्लाम धर्म के पांच स्तंभ हैं। इसमें अल्लाह को एक और निराकार मानना, नमाज, रोजा, जकात और हज शामिल हैं। इन फर्जों का जिसके ऊपर हक पहुंचे, उन्हें करना जरूरी है। यात्री मक्का-मदीना में सफा-मरवा घाटियों, पहाड़ियों, मकामे इब्राहिम, संग-ए-असवाद, हतीम, काबा शरीफ के इर्द-गिर्द इबादत करेंगे। सफर शुरू करने से पहले इसके तौर-तरीके, आने-जाने आदि का प्रशिक्षण दिया जाएगा। 

अपनी हेल्थ वेक्सीनेशन एंड ओपीडी बुकलेट तैयार रखें 
राजस्थान के यात्रियों के लिए जयपुर से करीब 20 उड़ानें भरेंगी। हज का फर्ज अदा कर वतन लौटने का सिलसिला 15 सितंबर को शुरू होगा। वापसी की फ्लाइट मदीना से जयपुर के सांगानेर एयरपोर्ट आएगी। केंद्रीय हज कमेटी ने इस बार भी हज यात्रा का समय 41 से 43 दिन का तय किया है। इस बार भी यात्रियों को हेल्थ वेक्सीनेशन एंड ओपीडी बुकलेट साथ ले जानी होगी। इसमें हृदयाघात, ब्लड प्रेशर, मानसिक रोग, शुगर जैसे बीमारियों की जांच और इलाज की वर्तमान स्थिति का ब्यौरा जरूरी है ताकि सऊदी सरकार को यात्रियों की जांच-पड़ताल में आसानी हो। इसकी गाइड लाइन हज कमेटी ऑफ इंडिया ने भी जारी कर रखी है। 

 

By Bhaskar



Leo College Banswara