Kalika Mata Temple

Kansarawada,

यह कंसारा समाज का निजी मंदिर है. यहाँ के पुजारी 55 सालो से पूजा करते हुवे आ रहे है. एक समय यहाँ के राज घरानों में से किसी राजा ने माताजी के सामने बली चढाने के लिए पाडे (भेंसे) की बली चढ़ानी चाहीं तो जैसे ही शस्त्र उठाया और भेंसे की गर्दन पर तीव्रता से शस्त्र रखा तो उसी समय भेंसा रुई(कपास) के रूप में बदल गया. तब से इस मंदिर में माताजी को न कोई माँसाहारी भोग है और ना ही कोई शराब की धार चढ़ाई जाती है. 

यह ब्रह्माणी कलिका माता का रूप है. 

जानकारी : मंदिर प्रांगन से. 

मंदिर का समय 
प्रात: 7 बजे 
आरती प्रात: 8 बजे 

कार्यक्रम 
* भगवान् के झूले 
* जन्माष्टमी 
* नवरात्री (यह शहर में चेत्र नवरात्री का विशेष स्थान है, यहाँ पर काफी संख्या में लोग गरबा खेलने एकत्रित होते है.) 
* अन्नकूट 
* यहाँ का पाटोत्सव हरियाली अमावस को मनाया जाता है. 

 इति शुभम

Kalika Mata Temple
Kansarawada, Banswara, Rajasthan
Contact No.

More Place to Visit