Home News Business

ओजोन परत में छेद पर पर्यावरण प्रेमियों ने जताई चिंता

Banswara
ओजोन परत में छेद पर पर्यावरण प्रेमियों ने जताई चिंता
@hellobanswara -
Pukaar Foundation

विश्व ओजोन दिवस पर जिलास्तरीय कार्यक्रम सोमवार को नंदनी माता मंदिर की पहाड़ी पर रखा गया। इसमें विद्यार्थियों ने जंगल की ट्रेकिंग की। साथ ही विभिन्न प्रतियाेगिताएं हुई, इसमें जवाहर नवोदय विद्यालय बुड़वा के विद्यार्थियों, शिक्षकों व वन सुरक्षा समिति के सदस्यों ने भाग लिया। मुख्य अतिथि उप वन संरक्षक सुगनाराम जाट ने कहा कि ओजोन परत में छेद होना चिंता का विषय है। सूर्य की पराबैंगनी किरणें सीधी पृथ्वी पर आ रही है, इससे अंटार्कटिका महाद्वीप में वन्य जीवन प्रभावित हुआ है। उन्होंने इस वर्ष की थीम 32 वर्ष और हीलिंग की जानकारी देते हुए बताया कि मॉन्ट्रियाल प्रोटोकाॅल के सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे है। सीएफसी का प्रयोग कम होने से ओजोन परत की मोटाई बढ़ रही है। नवोदय स्कूल बुड़वा के प्रधानाचार्य अखिल उपाध्याय ने कहा कि ओजोन पृथ्वी के लिए जीवनदायिनी है। इसमें छेद होने से अत्यधिक नुकसान होगा। उन्होंने अधिकाधिक पेड़ लगाने व प्रदूषण कम करने पर बल दिया। विशिष्ट अतिथि आनंदपुरी तहसीलदार सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि पर्यावरण के प्रति जागरूकता से ही प्रकृति का संरक्षण होगा। अतिथियों का स्वागत सहायक वन संरक्षक शैदा हुसैन ने किया। मंदिर परिसर में कल्प वृक्ष का जोड़ा लगाया गया। इस दौरान क्षेत्रीय वन अधिकारी प्रवीण कुमार अहारी, वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर यश सराफ, वनपाल सर्वेश राणा, नरेश पाटीदार, जफरूल्ला, गीता पाटीदार, हर्षद पाटीदार, यशपाल सिंह, दीपक पाटीदार, लालसिंह गरासिया, गौतम सरगड़ा, रमिला, इन्जा कुमारी, नारजी, सिकन्दर, चन्दू, लिमजी सहित वनकर्मी, नवोदय स्टाफ सदस्य और वन सुरक्षा समिति सदस्य उपस्थित थे। 

शेयर करे

More news

Search
×