वृक्षम् ने मनाया

Updated on February 15, 2018 Social
वृक्षम् ने मनाया , Banswara "Vruksham Celebrated"

Banswara February 14, 2018 - वृक्षम् के सदस्यों द्वारा पौधरोपण कर मनाया गया वसंतोत्सव

जहा एक तरफ आज युवा वेलेंटाईन डे मना रहे हे वही शहर के कुछ युवक-युवतियां ऐसे भी हे जिन्होंने इस दिन को "प्रकृति से प्यार" के दिन के रुप में पौधरोपण कर वसंतोत्सव के रूप में मनाया

वृक्षम् की सदस्य ईशा पंड्या और मनोज त्रिवेदी ने बताया कि जैसा की सभी लोग जानते है वर्तमान में वसंतोत्सव का मौसम चल रहा है और आदि/सनातन काल से इस माह को प्रेम और वात्सल्य के त्यौहार के रूप में "वसंतोत्सव/मदनोत्सव" नाम से मनाया जाता रहा है ... साथ ही इसी माह में ऋतू परिवर्तन के साथ ही प्रकृति भी अपने आप को निखारने तथा संवारने लगती है ...पेड़ो पर नई कोपलों और हरियाली का छाना, आम्रकुंज का आना , पलाश/टेसू के फूलों से प्रकृति का श्रृंगार होना, इसी माह में रंगों के त्यौहार होली का आना आदि बहुत कुछ ...
जतिन पंड्या ने कहा कि आदि काल से प्रकृति पूजक/आराधक रहे हे, लेकिन कालान्तर में पाश्चात्य संस्कृति के प्रभाव स्वरुप इसका महत्व कम होता गया है

वृक्षम् ने इन्ही सभ्यता, संस्कारो और संस्कृति को पुनर्स्थापित करने की दिशा में कार्य करते हुए आज के दिन को "वृक्षम्-वसंतोत्सव" के रूप में पौधरोपण करते हुए मनाया ...


आज का कार्यक्रम खांदू कॉलोनी स्थित अम्बामाता मंदिर परिसर में संपन्न हुआ जिसमें अमरुद,अशोक,चीकू, जामुन आदि के पौधे लगाए गए
आज के कार्यक्रम अंकुश सेवक, अतुल जोशी, पवन, राजेश भावसार, चंद्रेश पांचाल हेन्स व्यास आदि उपस्थित रहे



नीरज पाठक

Social Services

9462331117