होम ख़बरे विडिओ इवेंट्स

कल्लाजी धाम दुकवाड़ा के महंत ने साथियों के साथ मिलकर मंदिरों से चुराए थे चांदी के छत्र

25 Aug 2019 07:11 am

चार दिन के भीतर गनोड़ा और सज्जनसिंह का गढ़ा हनुमान मंदिर से चांदी के छत्र चुराने वाले तीन आरोपियों को मोटागांव पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। मंदिर में चोरी करने वाले में एक तो कल्लाजी धाम दुकवाड़ा का महंत है, वहीं दूसरा पालोदा और तीसरा आरोपी गनोड़ा का निकला। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि तांत्रिक विद्या में उपयोग के लिए मंदिर से छत्र चोरी किए थे। इन छत्रों से बीड़ियां, ताबिज बनाते थे जो टोने टोटके के काम में लिए जाते हैं। तीनों आरोपियों में से उम्मेदसिंह दुकवाड़ा गांव के कल्लाजी धाम का महंत है, जो टोने टोटके का काम करता है। दरअसल मोटागांव थाना इलाके के सज्जनसिंह का गढ़ा और गनोड़ा में चार दिन पहले हनुमान मंदिर से चांदी के छत्र चोरी हो गए थे। ग्रामीणों ने माेटागांव थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराकर आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की थी। इसके बाद एसपी केसरसिंह के आदेश पर घाटोल डीएसपी ताराराम बैरवा के निर्देशन में थानाधिकारी नागेंद्रसिंह के नेतृत्व में टीम गठित की थी। टीम ने दोनों मंदिरों के आसपास के क्षेत्रों में तलाश की और मुखबिर बनाए गए। जिन्होंने संदिग्धों पर नजर रखी और गोपनीय जानकारी के आधार पर संदिग्ध दुकवाड़ा निवासी उम्मेदसिंह पुत्र केशरसिंह सिसाेदिया, पालोदा निवासी प्रवीण पुत्र वासुदेव त्रिवेदी और गनोड़ा निवासी अश्विन पुत्र प्रभुलाल गामोट से पूछताछ की तो तीनों ने वारदात करना कबूला।

शेयर करे