राहुल गांधी ने माना: सुप्रीम कोर्ट ने नहीं कहा था 'चौकीदार चोर है', अपने बयान पर जताया खेद

Updated on April 22, 2019 Politics Politics
राहुल गांधी ने माना: सुप्रीम कोर्ट ने नहीं कहा था 'चौकीदार चोर है', अपने बयान पर जताया खेद, Banswara "राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर टिप्पणी के मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में अपना स्पष्टीकरण दाखिल किया. इस दौरान 'चौकीदार चोर है' वाले अपने बयान पर राहुल गांधी ने खेद जताया है।"

राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर टिप्पणी के मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में अपना स्पष्टीकरण दाखिल किया. इस दौरान 'चौकीदार चोर है' वाले अपने बयान पर राहुल गांधी ने खेद जताया है। सुप्रीम कोर्ट में राहुल गांधी के जवाब पर भाजपा ने कांग्रेस अध्यक्ष पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया है। रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि राहुल गांधी लोगों के बीच में  झूठ बोलते हैं।

राफेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट में 23 अप्रैल को सुनवाई है। सुनवाई से एक दिन पहले राहुल गांधी ने सोमवार को जवाब दिया है। राहुल ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश को गलत तरीके से रखने के लिए अपने बयान पर खेद जताया है। राहुल ने राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा था कि अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी कह दिया है कि चौकीदार चोर है।

कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ दायर अवमानना याचिका पर जवाब देते हुए सोमवार को राहुल गांधी की ओर से कहा गया कि हां मैं मानता हूं कि सुप्रीम कोर्ट ने कभी नहीं कहा चौकीदार चोर है। मेरी ओर से यह बयान चुनाव प्रचार के दौरान उत्तेजना में दिया गया था। राहुल ने कहा कि आगे से पब्लिक में कोई भी ऐसी बयानबाजी नहीं करूंगा। जबतक कि कोर्ट में ऐसी बात रिकॉर्ड में न कही गई हो। अंत में राहुल गांधी ने कहा कि मेरे बयानों का राजनीतिक विरोधियों द्वारा दुरुपयोग किया गया है। 

सोमवार सुबह राहुल गांधी के दिए सफाइनामे के बाद भाजपा उन पर हमलावर हो गई। भाजपा ने कांग्रेस अध्यक्ष पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया है। सुप्रीम कोर्ट में राहुल गांधी के जवाब पर निर्मला सीतारमण ने राहुल पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया है। केन्द्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि राहुल गांधी की विश्वसनीयता पर लगाम लगी है। लोगों के बीच में कांग्रेस अध्यक्ष झूठ बोलते हैं और इसे दोहराना दुःख की बात है। सीतारमण ने कहा 'मुझे खेद है कि कांग्रेस जैसी राष्ट्रीय पार्टी का अध्यक्ष केवल झूठ पर निर्भर है।'

बता दें कि राहुल गांधी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की अवमानना संबंधी याचिका पर कोर्ट ने राहुल गांधी को 15 अप्रैल को नोटिस जारी किया था। कोर्ट ने राहुल गांधी को 22 अप्रैल तक जवाब दाखिल करने को कहा था। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दस अप्रैल को नामांकन के बाद मीडिया के समक्ष राफेल सौदे को लेकर कहा था कि अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी कह दिया है कि चौकीदार चोर है। राहुल का यह बयान जब मीडिया में आया तो भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने सुप्रीमकोर्ट में याचिका दाखिल की, जिस पर आज राहुल गांधी ने जवाब दिया है।

मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट इससे पहले राफेल मामले में केंद्र सरकार को क्लीन चिट दे चुकी थी। कोर्ट ने राफेल विमान की खरीद प्रक्रिया को सही माना था। केन्द्र सरकार को क्लीन चिट दिए जाने के बाद प्रशांत भूषण, अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा ने कोर्ट के फैसले पर पुनर्विचार याचिका डाली थी। जिसे सुप्रीम कोर्ट ने स्वीकार कर लिया था।  

कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने निर्वाचन क्षेत्र अमेठी में कहा था, "मैं सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद देना चाहता हूं. पूरा देश कह रहा है कि चौकीदार चोर है (चौकीदार ने चोरी की है). यह जश्न का दिन है कि सुप्रीम कोर्ट ने न्याय की बात की है."



×
Hello Banswara Open in App