होम ख़बरे विडिओ इवेंट्स

पुकार ग्रुप और फन फेस्टिवल दी समर कैंप के बच्चों ने मिलकर 200 पोधे तैयार किये

9 Jun 2019 06:16 pm

हर रविवार की तरह पुकार ग्रुप अपने 72 वे रविवार पर बांसवाडा में चल रहे फन फेस्टिवल दी समर कैंप के साथ मिलकर कार्यक्रम किया। इस कार्यक्रम में समर कैंप में आ रहे बच्चों ने पुकार के साथ मिलकर 200 से ज्यादा प्लांट बनाये। इसके लिए मिटटी, केंचुवा खाद, रेत और नारियल का भूसा का मिश्रण तैयार किया गया उस मिश्रण को बच्चों ने थेलियों में भरा और उसमे बीज डालकर उसमे पानी डाला गया। ऐसे कर बच्चों ने 200 थेलिया तैयार की। कैंप में 4 ग्रुप बने हुवे है। ग्रुप A, B, C, D सभी ग्रुप ने बारी बारी से पोधों की थेलिया तैयार की । इस अवसर पर नीम, गुलमोहर, कछ्नार, अमलतास, सीताफल, बिल, आम आदि कई पेड़ों के बीज थेलियों में उगायें।

फन फेस्टिवल दी समर कैंप ने यह सभी थेलिया पुकार ग्रुप को डोनेट की। पुकार ग्रुप दो माह बाद जब यह पोधे निकल कर बड़े हो जाने के बाद जंगल बनाने में इनका उपयोग करेगा।

इसके बाद पुकार ग्रुप के द्वारा बच्चों को पोधे लगाने और उन्हें बचाने के लिए एक ड्रामा प्रस्तुत किया गया। इस मौके पर समर कैंप से भवी तव्य जोशी और उदित ने पेड़ों को बचाने पर एक एक कहानी भी कहीं। 

इस कार्यक्रम में बच्चों में काफी उत्साह दिखा और बच्चों ने पेड़ों के महत्व को भी समझा और प्रण लिया की वो हर वर्ष एक पोधा अवश्य लगायेंगे और लगाने के साथ उसकी देख रेख कर उसे पेड़ अवश्य बनायेंगे। 

इस अवसर पर वागड़ पर्यावरण संस्थान के अध्यक्ष डॉ. दीपक द्विवेदी ने पुकार ग्रुप और फन फेस्टिवल दी समर कैंप के इस अभियान कि प्रशंसा करते हुवे कहाँ कि इस प्रकार के कार्यों से ही बच्चों में पेड़ पोधों के प्रति लगाव बनेगा और इसकी उपयोगिता को वो समझेंगे और इस वातावरण को बचाने में वो आगे आकर सहयोग करेंगे। 

इस अवसर पर खुशलता भट्ट ने कहाँ कि यह कार्यक्रम मुझे बहुत ही पसंद आया, इस कार्यक्रम के द्वारा बच्चो को ज्ञात हुआ कि पोधे कैसे उगते है उनका पोषण किस तरह किया जाए । पौधों की भोजन सामग्री के लिए क्या आवश्यक है। बच्चो को पोधों की प्रतिदिन देख रेख करने के लिए जागरूक किया। आज कल फलो के बीजों को सुखा कर एकत्रित के पुनः नवीन पोधों को प्राप्त किया जा सकता है बच्चो को इस कैंप से बता चला की पोधा हमारे लिए क्यों आवश्यक है हमें उनसे क्या क्या प्राप्त होता है, अतः बच्चो को जन्म दिन के उपक्ष्य में एक पोधे को रोपने हेतु जागरूक करना चाहिए। इस प्रकार के कार्यक्रम होने चाहिए जिसमे सहीं मायने में जमीनी स्तर पर कार्य हो क्यूंकि कई बार ऐसा होता है कि कार्यक्रम तो होते है पर कार्य नहीं होता है पर आज के इस कार्यक्रम में जमीनी स्तर पर कार्य जरूर हुवा।

पुकार ने कहाँ कि हम लोग जमीनी स्तर पर कार्य करना पसंद करते है और हमारा मकसद यहीं होता है कि पोधे किसी न किसी बहाने से लगे और वो पेड़ बने, हमने जरूर कहाँ है कि यह मिशन 200 है पर हमारा मिशन तो सिर्फ एक ही है कि इस वातावरण को शुद्ध करने से है और उसके लिए हमें निरंतर प्रयास करते रहना होगा और हमें पोधे लगाकर उनकी उनकी जिम्मेदारी लेनी होगी क्यूंकि पोधा लगाकर फोटो क्लिक करने से वातावरण शुद्ध नहीं होता है उसे पेड़ बनाना ही सहीं जिम्मेदारी है इसलिए हम सभी से यहीं कहते है हमेशा कि हर वर्ष एक पोधा अवश्य लगाये और उसे पेड़ बनाने कि जिम्मेदारी ले।

 

आज के इस रविवार के कार्यक्रम में पुकार ग्रुप और फन फेस्टिवल के सदस्य (पंकज खंडेलवाल, रजत शर्मा, तरुण खंडेलवाल, रिशिक खींचि,  फातेमा कूकशीवाला, तसनीम अमरेजा, नवीन भाटी, गौरव तलदार, खगेश, कमलेश, भव्या पुरोहित, हीना हेमनानी, रिद्धि जैन, जान्वी पुरोहित, हितेश और फन फेस्टिवल दी समर कैंप के सभी बच्चे मौजूद थे।

शेयर करे