Home News Business

सीएमएचओ के निर्देश पर 20 अस्पतालों का निरीक्षण, सात डॉक्टर और 34 कर्मचारी नदारद मिले, सभी को नोटिस

सीएमएचओ के निर्देश पर 20 अस्पतालों का निरीक्षण, सात डॉक्टर और 34 कर्मचारी नदारद मिले, सभी को नोटिस
@hellobanswara -
Pukaar Foundation

Banswara March 26, 2019 - मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एचएल ताबियार के निर्देश पर जिलेभर में चिकित्सालयों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। आठ बीसीएमओ ने जिले के 20 अस्पतालों में जांच की गई। जिसमें सात डॉक्टर और 34 कर्मचारी बिना सूचना के अनुपस्थित पाए गए। 
 

सीएमएचओ डॉ. ताबीयार ने बताया कि आकस्मिक निरीक्षण के लिए आठों ब्लॉक के बीसीएमएओ को जिम्मेदारी दी गई थी। पूरा निरीक्षण कार्यक्रम आकस्मिक रहा। निरीक्षण के दौरान बायोमैट्रिक उपस्थिति, अस्पताल में साफ सफाई व्यवस्था, दवाइयों का स्टॉक सहित अस्पतालों में मिलने वाली सुविधाओं पर जांच करने के निर्देश दिए थे।  
उन्होंने बताया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र घोड़ी तेजपुर में चिकित्सा अधिकारी, सामुदयिक स्वास्थ्य केंद्र छोटी सरवा में चिकित्सा अधिकारी एवं एक प्रसाविका, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोखमपुरा में मेल नर्स प्रथम, द्वितीय व एलटी, सामुदयिक स्वास्थ्य केंद्र सरेड़ी बड़ी में रेडियोग्राफर, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सालिया में एक एलएचवी और एक पीएचस, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सेनावासा में चिकित्सा अधिकारी, एक मेलनर्स प्रथम व एक द्वितीय, एक स्टाफ नर्स, एक एलएचवी, दो प्रसाविका और एक एलटी अनुपस्थति मिला। 
इसी प्रकार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवदा में एक मेलनर्स प्रथम और एक एलएचवी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खमेरा में 2 चिकित्सा अधिकारी, एक एलएचवी, एक एलटी और एक लेखाकार, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गागड़तलाई में एक मेल नर्स प्रथम, एक प्रसाविका, एक पीएचएस और एक लेब सहायक नदादर रहे। इसी प्रकार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कलिंजरा में एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी और एक लेखाकार, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नवागांव में तीन कार्मिक, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चादरवाड़ा में आयुष डॉक्टर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छोटा डूंगरा में एक मेल नर्स प्रथम, एलटी और एक रेडियोग्राफर एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सेनावासा में एक चिकित्सक, दो नर्स श्रेणी द्वितीय और एक एलएचवी बिना सूचना के अनुपस्थत मिली।  
 

ताबियार ने बताया कि गागड़तलाई और सालिया में बॉयोमैट्रिक मशीन नहीं लगी हुई थी और कलिंजरा में 12 मार्च से यह बॉयोमैट्रिक मशीन बंद पड़ी है। इस पर तुरंत बॉयोमैट्रिक उपस्थति के लिए निर्देश के साथ ही स्पष्टीकरण मांगा गया है।

शेयर करे

More news

Search
×