सांसद का पांच साल का रिपोर्ट कार्ड, 77 फीसदी काम घाटोल में कराए, कुशलगढ़ और बागीदौरा से बनाई दूरी

Updated on March 19, 2019 Govt
सांसद का पांच साल का रिपोर्ट कार्ड, 77 फीसदी काम घाटोल में कराए, कुशलगढ़ और बागीदौरा से बनाई दूरी  , Banswara "सांसद का पांच साल का रिपोर्ट कार्ड, 77 फीसदी काम घाटोल में कराए, घाटोल के ही रह गए सांसद निनामा, अपने गृह क्षेत्र में 10 करोड़ खर्चे, बाकी 10 करोड़ 4 विधानसभाओं में "

घाटोल के ही रह गए सांसद निनामा, अपने गृह क्षेत्र में 10 करोड़ खर्चे, बाकी 10 करोड़ 4 विधानसभाअों में  

सांसद के चुनाव के लिए उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। प्रदेश सहित बांसवाड़ा में अगला सांसद कौन होगा, यह 29 अप्रैल को ईवीएम में कैद भी हो जाएगा। चुनावी सरगर्मियों के बीच भास्कर ने वर्तमान सांसद मानशंकर निनामा का रिपोर्ट कार्ड खंगाला। 5 सालों में सांसद निनामा ने अपने गृह क्षेत्र की घाटोल विधानसभा के लिए जमकर राशि खर्च की, जबकि बागीदौरा औ कुशलगढ़ विधानसभा क्षेत्रों में उन्होंने कंजूसी दिखाई। सरकार के आदर्श ग्राम योजना के तहत निनामा ने सवनिया गांव भी घाटोल विधानसभा का ही चुना। हालांकि आज भी यहां कई मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। स्थानीय सरपंच और ग्रामीणों की माने तो सांसद ने अपने मद से एक भी रुपया गांव के विकास के लिए खर्च नहीं किया है। घाटोल विधानसभा में सांसद मद की सर्वाधिक पैसा देने के बाद भी वहां पर स्वीकृत कामों में आधे से ज्यादा काम अधूरे हैं। रिकॉर्ड के अनुसार 467 कामों में 239 काम ही पूरे हो पाए हैं। 228 काम प्रगतिरत और अधूरे पड़े हैं। बांसवाड़ा-डूंगरपुर लोकसभा सीट पर 2014 में भाजपा को दूसरी जीत दिलाने वाले सांसद मानशंकर निनामा ने 5 सालों में जिले में अपने मद से 20.64 करोड़ रुपए के काम स्वीकृत कराए। इतनी राशि से जिले की पांचों विधानसभाओं में 604 काम स्वीकृत हुए, लेकिन 329 काम ही 5 सालों में पूरे हो पाए हैं। 274 काम जहां अभी भी चल रहे हैं तो 2 काम शुरू ही नहीं किए गए हैं।

मालवीया के क्षेत्र बागीदौरा और नॉन कमांड कुशलगढ़ में 5 फीसदी काम  
केंद्र की भाजपा सरकार में जिले का बागीदौरा विधानसभा क्षेत्र में विकास के कामों से काफी वंचित रहा। यहां सांसद मद से महज 21 काम ही स्वीकृत हुए जो कुल कामों का 3 फीसदी है। इनमें भी 14 काम तो अभी भी पूरे नहीं हुए हैं। महज 7 काम ही 5 साल में पूरे हो पाए हैं। इन कामों के लिए 1 करोड़ 28 लाख 89 हजार रुपए स्वीकृत हुए थे, खर्च 1 करोड़ 2 लाख और 19 हजार ही किए गए हैं। इसके अलावा निनामा की अनदेखी नॉन कमांड क्षेत्र की कुशलगढ़ विधानसभा में भी देखने को मिली, जबकि वहां गत विधानसभा में भाजपा के ही विधायक और संसदीय सचिव भीमा भाई डामोर थे। सांसद निधि से कुशलगढ़ क्षेत्र में 10 काम ही स्वीकृत हुए जिनमें 5 काम पूरे हुए और 5 अधूरे पड़े हैं। इनके लिए 45 लाख रुपए सांसद मद से स्वीकृत हुए हैं। 

स्वीकृत काम और खर्च राशि  
 

विधानसभा काम बजट पूर्ण  
बांसवाड़ा 59456.0644
कुशलगढ़ 1045.8685
गढ़ी 47455.0633
बागीदौरा 21128.897
घाटोल 467 979.12239


नोट : बजट लाखों में दर्शाया गया है।

सांसद मद से वित्तीय वर्ष 2016-17 में जहां 216 स्वीकृतियां मिली वहीं 18-19 में 232 काम स्वीकृत हुए हैं।  

हैंडपंप सीसी सड़क निर्माण में खर्च ज्यादा  
जिले में सांसद मद से सबसे अधिक स्वीकृतियां व्यक्तिगत लाभ के काम में निकाली गई। इसमें सबसे ज्यादा हैंडपंप निर्माण की स्वीकृतियां हैं। कुल कामों में 370 से अधिक हैंडपंप की स्वीकृतियां देकर लोगों को व्यक्तिगत लाभ पहुंचाया है। इसमें भी सबसे ज्यादा हैंडपंप घाटोल विधानसभा के गांवों में स्वीकृत हुए हैं। इसके बाद बजट का दूसरा बड़ा हिस्सा सीसी, ग्रेवल और खरंजा सड़कों में खर्च हुआ है। 5 सालों में 110 से अधिक सड़क निर्माण की स्वीकृतियां जारी की गई है। 

 

BY Bhaskar



Fun Festival
×
Hello Banswara Open in App