बांसवाड़ा में ’गोटियो’ ने पहले ही दिन जमाई धाक, सोशल मीडिया और जनचर्चा में छाया ‘गोटियो’

Updated on November 7, 2018 Govt
बांसवाड़ा में ’गोटियो’ ने पहले ही दिन जमाई धाक,  सोशल मीडिया और जनचर्चा में छाया ‘गोटियो’, Banswara "Assembly general election Gotio"

Banswara November 07, 2018 - विधानसभा चुनावों में मतदाता जागरुकता के लिए बांसवाड़ा जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा तैयार किए गए कार्टून करेक्टर ’गोटियो’ ने पहले ही दिन जिलेभर के सोशल मीडिया व जनचर्चा में अपना स्थान बना लिया है। 
    

जिला निर्वाचन अधिकारी (कलक्टर) भगवती प्रसाद की पहल पर तैयार किया गया इस कार्टून करेक्टर का सोमवार को ही लोकार्पण किया गया और चौबीस घंटों के भीतर ही इस करेक्टर ने सोशल मीडिया पर जबर्दस्त धूम मचाई। मीडिया प्रकोष्ठ टीम द्वारा इस करेक्टर पर मंगलवार को व्हाट्सअप स्टीकर भी तैयार किए गए जिनको सैकड़ों की तादाद में लोगों ने एक दूसरों को भेजकर लोकतंत्र के महायज्ञ में भागीदारी निभाने का संदेश पहुंचाया।
    उल्लेखनीय है कि वागड़ी बोली में ‘गोटियो’ का अर्थ दोस्त होता है। इस नाम को चुनने का उद्देश्य भी लोगों को एक दोस्त की भांति भले-बुरे की जानकारी देते हुए संदेश देना है।  
    

गोटियो ने दिया दीवाली का संदेश -
    मंगलवार को दीपावली के मौके पर जिलेवासियों के लिए दो संदेश दिए। पहले संदेश में वागड़ की दिवाली की परंपरागत कहावत ‘आज़ दिवारी, काल दिवारी, पमने दाड़े मेरियू’ पर आधारित लोकतंत्र नु मेरियू को जोड़ा है और मतदान के माध्यम से लोकतंत्र की मशाल (मेरियू) को प्रज्वलित कर रोशनी फैलाने का संदेश दिया है। इसी प्रकार दूसरे संदेश में गोटियो ने मतदान की दिवाली के माध्यम से उजियारे का संदेश दिया है। इसमें बताया गया है कि यदि वास्तव में विकास का उजियारा देखना है तो लोगों को इस दिवाली के बाद 7 दिसंबर को वोट करके देखना होगा।   



Leo College Banswara