श्रधांजली दिवस

Updated on February 3, 2018
  • 13-02-2018

श्रधांजली दिवस 13 फरवरी 2018 (विक्रम संवत 2074) सांय 4 बजे पूर्व संध्या पर गाँधी मूर्ती बांसवाडा

 हर वर्ष की भांती इस वर्ष भी हरि ॐ ग्रुप की तरफ से 14 फरवरी इतिहास का काला दिवस के रूप में मनाने हेतु 13 फरवरी को सांयश्रधांजली दिवस के रूप में मनाया जायेगा| 
भारत माता के अमर अपुत शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को कभी सम्मान नहीं मिला और उन्हें देशद्रोही, राष्ट्रविरोधी माना गया| ये राष्ट्रभक्त थे भारत की सोई जनता को जगाने वाले, अंग्रेजी सल्तनत को हिलाने वाले क्रांतिकारी देशभक्त थे जिन्हें देशद्रोही कह कर फांसी के फंदे पर लटका दिया गया|

वेलेंटाइन डे के नाम पर भारतीय संस्कृति और सभ्यता पर प्रहार करने वाली विधर्मी ताकतों को जवाब देने हेतु इन शहीदों को याद कर श्रधांजली देकर हम कृतज्ञ है|
 गुलाब के फुल और प्यार के इजहार के दिन के रूप में हमारी संस्कृति को कमजोर कर दुश्मनी ताकते हमारे देश के युवक युवतियों को दिशा भ्रमित कर रही है| इसलिए यह कार्यक्रम वर्तमान काल की जरूरी आवश्यकता है|

 हम शहादत को याद करें प्रतिवर्ष 14 फरवरी को भगत सिंह, सुखदेव राजगुरु व और भी शहीदों को याद कर उन्हें श्रधांजली स्वरूप पुष्प अर्पित कर दीपदान कर आने वाली पीढ़ी को पुन: भारतीय संस्कार प्रदान करे|

पाश्चात्य मनोरंजन के नाम पर हमारी युवा पीढ़ी को खोखला कर रही है इस दिशा में सामूहिक प्रयास की निरंतर आवश्यकता है|

उक्त कार्यक्रम हरि ॐ ग्रुप के संयोजन की भूमिका से हो रहा है| इस कार्यक्रम को सार्वजनिक कर सभी की भागीदारी एवं प्रयासों से सहयोग की मांग है| इसलिए सभी सामजिक संगठनो स्वंय सेवी संस्थाओ मात-शक्ति संगठनो सेवा प्रकल्पो से जुडी संस्थाओं से निवेदन है की इस प्रकार से हम एक-दुसरे के पूरक बनकर सहभागी बने| राष्ट्र कार्य जहां भी हो हम सभी आगे आकर सहभागी दर्ज करावें|

हरि ॐ ग्रुप की स्थापना 2008, 31 मई अपरा एकादशी को हुई|
हरि ॐ सत्संग सेवा मंडल बांसवाडा शुरुआती समय में हनुमान कथा, भजन-कीर्तन, शोभायात्रा के माध्यम से धर्म जागरण का कार्य किया| 
फरवरी 2016 में पहली बार ग्रुप की मात्त्य शक्ति निशा जोशी द्वारा एक पोस्ट आई जिसमे यह जानकारी थी की 14 फरवरी के दिन अंग्रेजी शासनकाल में लाहोर की कोर्ट द्वारा शहीद भगत सिंह, सुखदेव एवं राजगुरु को फांसी की सजा सुनाई गई थी हम इन्हें याद कर तीनो भारत माता के अमर सपूतो को सार्वजनिक रूप में श्रधांजली देवे सभी ग्रुप सदस्यों की सहमती होने पर यह श्रधांजली कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ|
14 फरवरी 2016 रविवार को प्रात: 11 बजे यह कार्यक्रम पहली बार गांधी मूर्ति पर हुआ|
दुसरे साल 13 फरवरी को 2017 को यह कार्यक्रम यथावत रूप से किया गया जिसमे सेवानिवृत भारतीय सेना के जवान और सेना में कार्यरत जवानो के परिजनों को मंच के माध्यम से सम्मानित किया गया|
13 फरवरी को इस श्रधांजली कार्यक्रम में तीन वर्ष होने को है|
 

February, 2019
SMTWTFS
27
28
29
30
31
1
2
3
4
5
6
7
8
9
10
11
12
13
14
15
16
17
18
19
20
21
22
23
24
25
26
27
28
1
2

देश के शहीदों के नाम व्यापारियों ने अपनी प्रतिष्ठाओं को स्वेच्छिक बंद कर निकाली रैली

16-02-2019

सैनिकों को रैपिस्ट कहने वाले प्रिंसिपल को किया निलंबित, देश द्रोह का मामला किया दर्ज

16-02-2019

दिनभर शहर का कचरा उठाते हैं, भुगतान से ठेकेदार 500 से 1000 रुपए काट लेता है

16-02-2019

60 घंटे से नियुक्ति पत्र का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों से मंत्री बामनिया बोले-18 को हर हाल में नियुक्ति दिलवाऊंगा

16-02-2019

यातना केंद्र बने लेबर रूमों की सरकार निष्पक्ष जांच कराए नहीं तो हम कराएंगे : हाईकोर्ट

16-02-2019

एसबीआई ने बीसी के ग्राहक सेवा केंद्र से अपने बैनर और फ्लेक्स हटा दिए

16-02-2019

6 हजार की गार्ड की नौकरी पाने पहुंचे बड़ी बड़ी डिग्री धारक

16-02-2019

आतंकी हमले के कारण विश्वकर्मा जयंती संबंधी सभी कार्यक्रम निरस्त

16-02-2019