17 साल बाद इस बार 5 महायोग में नए साल का स्वागत

Updated on January 1, 2018 Jyotish
17 साल बाद इस बार 5 महायोग में नए साल का स्वागत, Banswara "Seventeen years later this year welcomed the new year in five Mahayog"

17 साल बाद इस बार 5 महायोग में नए साल का स्वागत

Banswara January 01, 2018 नयासाल कल्याणकारी और उन्नतिकारक होगा। नए साल का स्वागत इस बार पंच महायोग के संयोग से हो रहा है। 


साल की शुरुआत सोमवार से हो रही है। इस दिन शुक्ल और आनंद योग भी है। साथ ही अमृत, सिद्धि और स्वार्थ सिद्धि के योग भी बन रहे हैं। ऐसे में ये 5 महासंयोग नए साल को पहले के सालों में बेहतर बना रहे हैं। वर्ष 2001 के बाद यह पहला अवसर है, जब वर्ष की शुरुआत इस महायोग के साथ होगी, जो सबके लिए कल्याणकारी होगा। इस वर्ष व्यापार में लाभ होगा। ज्योतिषविद पं. भवानी खंडेलवाल ने बताया कि एक जनवरी को शुक्र-शनि और सूर्य लग्न भाव में रहेंगे। सूर्य भी भाग्येश होकर लग्न में बैठे हैं। जिसे हिंदू धर्मग्रंथों के मुताबिक काफी शुभ संकेत माना जाता है। पं. खंडेलवाल के अनुसार ऐसा संयोग बहुत कम होता है, जब लगभग सभी स्नान पर्व एक ही माह में होते हैं। लेकिन, 2018 में महाशिवरात्रि को छोड़कर 5 स्नान पर्व जनवरी में ही पड़ेंगे। 14 जनवरी की रात 7.45 बजे वृहस्पति अपनी राशि धनु छोड़कर शनि की राशि मकर में प्रवेश करेंगे, इसलिए उदया तिथि के अनुसार मकर संक्रांति का पर्व 15 जनवरी को मनाया जाएगा। मकर संक्रांति के दिन भोर में 4.52 बजे माघी अमावस्या शुरू हो जाएगी। मौनी अमावस्या का पर्व 16 जनवरी को है। 
 

ये हैं स्नान पर्व 
2 जनवरी मंगलवार पौष पूर्णिमा, 14-15 जनवरी रविवार, सोमवार मकर संक्रांति, 16 जनवरी मंगलवार मौनी अमावस्या, 22 जनवरी बसंत पंचमी, 31 जन. माघी पूर्णिमा स्नान पर्व रहेंगे। 

सालमें तीन बार होगा रवि पुष्य योग 
22अप्रैल, 20 मई और 17 जून को रवि पुष्य योग होंगे। इनमें 8वें स्थान पर पुष्य नक्षत्र आता है। जो शुभ-कल्याणकारी नक्षत्र हैै। यह नक्षत्र रविवार के दिन होता है। इस नक्षत्र एवं बार के संयोग से रवि पुष्य योग बनता है। 

 

राशियों पर क्या रहेगा असर 

मेष : सफलता,समृद्धि 

वृषभ: धनलाभ,स्वास्थ्य 

मिथुन: पारिवारिकतकलीफ 

कर्क: समृद्धि

सिंह: धनकी सुरक्षा करें 

कन्या: धनलाभ

तुला: स्वास्थ्यका ध्यान रखें 

धनु: शत्रुभय

वृश्चिक : चिंता,पारिवारिक प्रगति 

मकर: स्त्रीकष्ट

कुंभ: रोग,धनलाभ 

मीन: खर्चअधिक 





 

ज्योतिष : व्यापारमें उन्नति के साथ देश का प्रभाव बढ़ेगा, 2018 में तीन बार होगा रवि पुष्य योग 



Leo College Banswara